किसान आंदोलन पर पुलिस की पैनी नजर,डीसीपी तैनात

देश—विदेश
  • 22 जुलाई को किसानों का संसद घेराव का किया है ऐलान
  • आईपीएस अधिकारी संजय कुमार त्यागी को मिला रणनीति बनाने की जिम्मादारी

नई दिल्ली। दिल्ली की सीमाओं पर तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने 22 जुलाई को संसद घेरने का ऐलान किया है। इस बीच दिल्ली पुलिस ने भी सुरक्षा संबंधी अपनी तैयारियां तेज कर दी है। किसान प्रदर्शनकारियों की गतिविधियों पर पैनी नजर रखने और उसके हिसाब से रणनीति बनाने का जिम्मा आईपीएस अधिकारी संजय कुमार त्यागी को दिया गया है। यह पहली बार है कि जब विशेष तौर पर किसान आंदोलन को लेकर अलग से डीसीपी को तैनात किया गया है।

दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शनकारी किसान लंबे समय से प्रदर्शन कर रहे हैं। बीच-बीच में किसान दिल्ली कूच करने का ऐलान करते हैं और कुछ दल इसकी कोशिश भी करते हैं। किसान आंदोलन की अगली रणनीति के तहत किसान ने 22 जुलाई को संसद भवन के घेराव का ऐलान किया है। भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत के अनुसार लगभग 200 लोग बसों से दिल्ली में प्रवेश करेंगे और संसद के बाहर धरना देंगे।

दिल्ली पुलिस ने पहली बार ऐसी व्यवस्था की गई है, जिसके तहत कोई अधिकारी ऐसे मामले पर विशेष तौर पर काम करेगा। खबर है कि संजय कुमार त्यागी पहले डेप्युटेशन पर नई दिल्ली नगरपालिका में तैनात थे। अब उन्हें वेस्टर्न जोन के स्पेशल सीपी के साथ जोडा गया है, और पहली बार किसान आंदोलन को लेकर स्पेशल सीपी के साथ इस तरह की अलग से पोस्ट बनाई गई है।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments