वामपंथी पार्टियों का महामहिम राष्ट्रपति जी के नाम जिलाधिकारी के माध्यम से 5 सूत्री मांग पत्र सौंपा गया

राज्य

मऊ। मांग पत्र मैं रसोई गैस खाद्य तेल दाल सब्जी पेट्रोल डीजल एवं जीवन के उपयोगी वस्तुओं में बेतहाशा मूल्यवृद्धि पर रोक लगाने सरकारी विभागों में 60लाख खाली पड़े पदों को अविलंब भरने राजद्रोह के फर्जी मुकदमालगाने वाले अधिकारियों को बर्खास्त करने केंद्रीय कानून बनाकर बेरोजगारों को वेरोजगारी भत्ता देने कोरोना पीरियड के घरेलू बिजली बिल माफ करने आदि जन सरोकारों से जुड़े सवालों को प्रमुखता से उठाया गया है।

साथ ही प्रशासनिक मनमानी एवं उनकी भेदभाव पूर्ण करवायीतथा जनपक्छधर पत्रकारों बुद्धिजीवियों तथा सक्रिय सामाजिक कार्यकर्ताओं के ऊपर हास्यास्पद ढंग से राजद्रोह जैसी खतरनाक कानूनों मैं प्रताड़ित करने पर ध्यान आकर्षित किया गया मांग पत्र सौंपने से पहले सैकड़ों कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए नेताओं ने राज्य सरकार की मनमानी जन विरोधी कार्यवाही यो जैसे भू माफियाओं के नाम पर गरीब मजदूर मजबूर लोगों के आशियाने दुकानों को बुलडोजर चलाकर तबाह और बर्बाद करने की तीव्र आलोचना करते हुए कहा कि सरकार सभी संवैधानिक अधिकारों का हनन कर रही है।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से सीपीआई के जिला मंत्री राम सोच यादव सीपीएम के जिला मंत्री डॉ अजीम सीपीआई माले के साधु यादव रामजी सिंह क्रांति सिंह सरोज सिंह किसानों के लीडर राम कुमार भारती घोसी विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी हिसामुद्दीन किसानों के जिला मंत्री गुफरान अध्यक्ष देवेंद्र मिश्रा नौजवानों के जिला अध्यक्ष फखरे आलम बुनकरों के जिला अध्यक्ष अनीस अहमद भारत नौजवान सभा के अनिरुद्ध परीक्षित सिंह सुभाष चकरदेवा रामजीत रायपुर रामजीत चौहान बेचयी भारती बुनकर नेता ताहिर जमील अहमद इम्तियाज अहमद कोपागंज आदि सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments