इंद्रदीप बाबू आजीवन किसान मजदूरों के लिए लड़ते रहे—राम बाबू सिंह

मढ़ौरा (सारण) 01 जुलाई 2022। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी नेता पूर्व सांसद एवं विधायक किसान मजदूरों के मसीहा पूर्व मंत्री कामरेड इंद्रदीप सिन्हा की 108वी जयंती मढ़ौरा प्रखंड के ओल्हनपुर ग्राम में समारोह पूर्वक सोल्लास मनाया गया। प्रातः काल कामरेड रामबाबू सिंह जिला सचिव भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी भरत राय जिला संयोजक किसान सभा एवं संजय कुमार सिंह अंचल सचिव के नेतृत्व में प्रभात फेरी की गयी।

कामरेड इंदरजीत बाबू अमर रहे, किसान मज़दूर एकता जिंदाबाद अग्नीपथ को वापस लो, किसानों को पेंशन दो तथा उनका सभी कर्ज माफ करो आदि नारे लगाए गए। समारोह की शुरुआत इंद्रदीप बाबू के चित्र पर माल्यार्पण के साथ शुरुआत हुई समारोह को संबोधित करते हुए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी जिला सचिव रामबाबू सिंह ने कहा कि इंद्रदीप बाबू आजीवन पार्टी को सेवा करते हुए किसान मजदूरों की खुशहाली के लिए संघर्ष रत रहे। बिहार उन्हें 1967 के अकाल में बिहारवासियों को भूख से नहीं मरने देने के लिए कुशल राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री के रूप याद करता रहेगा।

उनके जीवन का आदर्श “कविरा खड़ा बाजार में लिए लुआठी हाथ अपने घर को जलने दो चलो हमारे साथ”में कबीर का दोहा था जिसके चलते वे आजीवन शोषण एवं अत्याचार की समाप्ति के लिए संघर्षरत रहे तो आइए हम इंद्रदीप भाई के जीवन से शिक्षा लेते हुए समाजवादी समाज की स्थापना का संकल्प ले यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

समारोह को संजय सिंह रामबाबू सिंह भरत राय रजाक हुसैन प्रेमचंद्र राम विजय राय संजय यादव विकास कुमार अविनाश कुमार मोहम्मद शहाबुद्दीन आदि नेताओं ने संबोधित किया एवं कामरेड जगदीश बाबू को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए उनके पद चिन्हों पर चलने का संकल्प लिया।

Related Articles

Back to top button