पेड काटने के मामले में बाग मालिक व ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज

राज्य

-वन विभाग अनूपशहर की पूरी टीम को भी थमाया कारण बताओ नोटिस

जहाँगीराबाद : नगर में वन माफियाओं द्वारा काटे गए सौ से ज्यादा आम के हरे पेड़ों के मामले का प्रशासन ने संज्ञान ले लिया है। समाचार पत्रों में खबर छपने के बाद वन विभाग की आँख खुली  हैं। डीएफओ के निर्देश पर आनन फानन में बाग मालिक व ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। जबकि नगर में कार्यरत वन विभाग की टीम के खिलाफ भी विभागीय कार्यवाही शुरू कर दी गई है। 


 बताते चलें कि शनिवार देर रात्रि नगर की नई अनाज मंडी के सामने एक बाग में खड़े सौ से ज्यादा हरे आम के पेड़ों को वन माफियाओं द्वारा काट दिया गया। मामले की जानकारी होने से इंकार करते हुए स्थानीय पुलिस ने भी किनारा कर लिया था। स्पेस प्रहरी समाचार पत्र ने प्रमुखता से  प्रकाशित  किया था। समाचार पत्र में प्रमुखता से खबर छपने के बाद सोमवार को जनपद स्तरीय वन विभाग के अधिकारियों ने मामले का संज्ञान ले लिया। डीएफओ ने वन रक्षक को बाग मालिक व हरे पेड़ काटने वाले ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं। साथ ही डीएफओ ने तहसील की वन विभाग की टीम के खिलाफ भी कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है।  कोतवाली प्रभारी  रमाकान्त  यादव ने बताया की वन रक्षक दीपक सिंह ने स्थानीय पुलिस तहरीर देकर हरिश्चंद निवासी जहाँगीराबाद, उन्मेद पुत्र मुन्ने खान निवासी खानपुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। 


गौतम सिंह, डीएफओ बुलन्दशहर ने बताया की वन रक्षक की तहरीर पर बाग मालिक हरिश्चंद व वन माफिया उन्मेद के खिलाफ़ उ. प्र. वृक्ष संरक्षण अधिनियम 1976 की धारा 4/10 व उ. प्र. अभिवहन नियमावली 1978 की धारा 3/28 के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया है। साथ ही तहसील अनूपशहर में तैनात वन विभाग की टीम को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments