पद्म विभूषण नंदलाल बोस राष्ट्रीय गोल्डन आर्टिस्ट अवार्ड से सम्मानित हुए आर्टिस्ट चंद्रपाल राजभर

सुल्तानपुर (उ.प्र.) 3 जनवरी 2021 को कलाकार, शिक्षक, लेखक चंद्रपाल राजभर जी को पद्म विभूषण नंदलाल बोस राष्ट्रीय गोल्डन आर्टिस्ट अवार्ड से सम्मानित किया गया। चंद्रपाल राजभर सुल्तानपुर जनपद के ब्लाक अखण्डनगर के सजनपुर गांव के निवासी हैं साथ-साथ में बेसिक शिक्षा विभाग कादीपुर के प्राथमिक विद्यालय रानीपुर कायस्थ में सहायक अध्यापक के रूप में अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं। देश के लिये विभिन्न अवसरों पर चंद्रपाल राजभर अपनी कलाओं के माध्यम से देश दुनिया की चेतना जागृति बढ़ाने के लिए ऑफलाइन एवं ऑनलाइन माध्यमों से कार्य करते रहते हैं।

यह अवार्ड चंद्रपाल राजभर को उनकी कृति नेचर के लिए प्रदान किया गया है जो कैनवस पर एक्रेलिक कलर के माध्यम से बनाई गई है जिसका अनुपात 24 * 36 इंच है इस कलाकृति में चंद्रपाल राजभर जी ने बताया है कि किस तरह से आज पर्यावरण का मानव द्वारा हराश किया जा रहा है और पर्यावरण हरास के कारण मानव जीवन पर कितना बड़ा असर पड़ रहा है मानव इससे अपरिचितता का व्यवहार कर रहा हैं जिससे मानव जीवन में विभिन्न प्रकार की विसंगतियां पैदा हो रही हैं। वृक्षों के दोहन से वायु असंतुलित हो रही है वातावरण में कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा बढ़ रही है। वृक्षों के दोहन से मौसम में काफी शुष्क पन दिखाई पड़ है साथ-साथ में कलाकार अपनी कलाकृति में जल की कीमत और स्वच्छता के बारे में भी संदेश देते हुए कहता है कि मनुष्य जल की कीमत को समझें जल को एकत्रित संरक्षित करे तालाबों नदियों झीलों में विषैले विदूषक रसायन एवं वस्तुओं को ना डालें इससे इससे अन्य जीव-जंतुओं को नुकसान के साथ-साथ प्रकृति का हराश होता है इन संदेशों के साथ नेचर नामक कलाकृति अपने आप में अद्भुत मूल्यवान है जो विविध संदेशों को अपने अंदर में छुपाए हुए हैं इस अवार्ड के। लिये स्वदेश संस्थान इंडिया ने ऑनलाइन ईमेल के माध्यम से पूरे भारत से आवेदन प्राप्त किया और जजमेंट कमेटी द्वारा कलाकृतियों का अध्ययन कर चयनित विविध कलाकारों को यह ऐवार्ड प्रेषित किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button