दिल्ली मेट्रो में निर्माण कार्यों में लगे मजदूरों को कोविड वैक्सीन के लाभों की जानकारी के लिए मनोरंजनक अभियान

नई दिल्ली। दिल्ली मेट्रो द्वारा एक अनोखी पहल के रूप में, अभियान चलाया जा रहा है ताकि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में डीएमआरसी के निर्माण स्थलों पर कोविड-19 के लिए वैक्सीनेशन के लाभों के बारे में जागरुकता बढ़ाई जा सके।

पिछले बुधवार से शुरु हुए इस जागरुकता अभियान के अंतर्गत निर्माण स्थलों पर मजदूरों की सीमित संख्या के साथ छोटे-छोटे समूहों के लिए नुक्कड़ नाटकों की एक श्रृंखला का आयोजन किया जा रहा है।

इन शो के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य प्रोटोकॉल का सावधानीपूर्वक अनुपालन सुनिश्चित किया जा रहा है। हफ्ते भर चलने वाली इस पहल के तहत लगभग 3000 मजदूरों से सीधा संपर्क संभव हो सकेगा।

नुक्कड़ नाटकों के मंचन के लिए कॉमर्शियल फिल्मों, टीवी शो तथा वेब सीरीज़ में काम करने वाले प्रोफेशनल आर्टिस्टों को लिया गया है। चूंकि अधिकांश मजदूर उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश और झारखंड आदि राज्यों से आते हैं इसलिए इन शो की रूपरेखा और लेखन कार्य इन राज्यों के ग्राणीण भागों में बोली जाने वाली विभिन्न बोलियों में किया गया है ताकि मजदूर इन्हें बेहतर ढंग से समझ सकें।

इन शोज में इन अंचलों के प्रचलित लोक गीतों का इस्तेमाल किया जा रहा है जिससे कलाकार मजदूरों से समन्वय भी कर सकें। वैक्सीनेशन के लाभों के बारे में मजदूरों के बीच जानकारी वाले लीफलेट/परचे भी बांटे जा रहे हैं। वैक्सीनेशन के लाभों से संबंधित तमाम जानकारी हिंदी भाषा में बहुत सरल तरीके से संकलित की गई है।

इस अभियान के अंतर्गत एक लघु फिल्म भी बनाई जाएगी तथा उसे डीएमआरसी के सोशल मीडिया अकाउंट्स पर शेयर भी किया जाएगा। इस लघु फिल्म को मजदूरों को मोबाइलों पर भी शेयर किया जाएगा ताकि यह बड़ी संख्या में ऑडियंस तक पहुंच सके। इस समय दिल्ली-एनसीआर में डीएमआरसी के निर्माण स्थलों पर लगभग 3200 मजदूर काम कर रहे हैं।

इस संख्या में धीरे-धीरे वृद्धि हो रही है क्योंकि लॉकडाउन संबंधी प्रतिबंध हटा लिए गए हैं। डीएमआरसी के ठेकेदार मजदूरों के संपर्क में हैं ताकि उनमें आत्मविश्वास पैदा हो सके जिससे वे सुरक्षित कार्य वातावरण में अपने काम पर लौट सकें।

लॉकडाउन के दौरान जो मजदूर वापस आ गए थे उन्हें आवश्यकतानुसार आवास, भोजन और चिकित्सा सुविधाएं मुहैया कराई गई थीं। डीएमआरसी के कुछ निर्माण स्थलों पर टीकाकरण अभियानों का आयोजन किया जा चुका है।

डीएमआरसी के अधिकारी स्थानीय प्रशासन और प्राइवेट हैल्थकेयर प्रोवाइडर्स के संपर्क में हैं ताकि निर्माण स्थलों पर अधिक टीकाकरण अभियानों का आयोजन किया जा सके। निर्माण स्थलों पर सुनिश्चित किया जाता है कि कोविड संबंधी सभी नियमों जैसे सेनिटाइजेशन, प्रवेश के समय तापमान की जांच और सामाजिक दूरी का सख्ती से पालन किया जाता हो।

इस समय, डीएमआरसी द्वारा अपने फेज-IV की परियोजना के लिए 65 कि.मी. लंबे नेटवर्क का निर्माण कार्य किया जा रहा है।

Related Articles

Back to top button